Skip to main content

करौली एसपी प्रीति चंद्रा की मेहनत लाई रंग,अवैध हथियारों के खिलाफ चल रहे राज्यव्यापी अभियान के तहत 998 गिरफ्तार


प्रकाशचंद्र शर्मा (ब्यूरो चीफ) करौली— अवैध हथियारों के खिलाफ चल रहे राज्यव्यापी अभियान में अब तक 945 आग्नेयास्त्र बरामद कर 998 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इस कार्यवाही में अलवर जिला द्वारा 95 व्यक्तियों से 113 हथियार बरामद कर प्रथम पायदान पर, करौली जिला द्वारा 57 व्यक्तियों से 64 हथियार बरामद कर द्वितीय पायदान पर, भरतपुर जिला 53 व्यक्तियों से 59 हथियार बरामद कर तृतीय पायदान पर रहा है। गिरफ्तार 998 व्यक्तियों से अवैध हथियार के साथ-साथ काफी मात्रा में कारतूस भी बरामद किये गये हैं। 

अतिरिक्त महानिदेशक अपराध बी एल सोनी ने बताया कि लोकसभा चुनाव की प्रकिया के दौरान वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए चलाये जा रहे राज्यव्यापी अभियान में 1 मार्च, 2019 से अब तक 5 हजार 450 स्थायी वांरटियों को गिरफ्तार किया गया हैं। सर्वाधिक गिरफ्तारी चित्तौड़गढ में 575, श्रीगंगानगर में 316 व उदयपुर में 300 अपराधियों की गिरफ्तारी की गई हैं। इसी प्रकार उद्घोषित अपराधियों की गिरफ्तारी के अभियान में अब तक 42 उद्घोषित अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है।  इनमें से सर्वाधिक 10 कोटा शहर पुलिस द्वारा, 7 करौली पुलिस द्वारा व 5 कोटा ग्रामीण पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये हैं। 

सोनी ने बताया कि 299 दण्ड प्रक्रिया संहिता के मफरूरों में से 447 का निस्तारण इस अवधि में किया गया हैं। इसमें सर्वाधिक 43 पाली से, 34 चित्तौड़गढ से व 32 झुंझुनू जिला पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये हैं। इस अवधि में 99,432 गिरफ्तारी वांरटों की तामील करायी गयी हैं, जो कि एक रिकार्ड है। 

अतिरिक्त महानिदेशक ने बताया कि सक्रिय अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे टॉप-10 अभियान में राज्य भर में प्रशंसनीय कार्यवाही की गई है। अब तक चिन्हित किये गये अपराधियों में से थाना स्तर के 1360, वृत स्तर के 426, जिला स्तर के 213, रेंज स्तर के 42 व राज्य स्तर के टॉप-25 में से 12 सक्रिय अपराधियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध चल रहे प्रकरणों में कार्यवाही की जा रही हैं।

इन गिरफ्तार अपराधियों में से कुल 220 इनामी अपराधी भी गिरफ्तार किये गये हैं, जिनकी गिरफ्तारी पर रूपये 18 लाख रूपये के ईनाम की घोषणा की गयी थी। सर्वाधिक ईनाम राशि वाले अपराधियों की गिरफ्तारी में अलवर जिला पुलिस ने 18 ईनामी अपराधियों को गिरफ्तार कर रूपये 82 हजार रूपये का पुरस्कार, कोटा शहर पुलिस द्वारा 21 ईनामी अपराधियों को गिरफ्तार कर रूपये 52 हजार रूपये का पुरस्कार व कोटा ग्रामीण पुलिस द्वारा 15 ईनामी अपराधियों को गिरफ्तार कर रूपये 41 हजार रूपये की पुरस्कार राशि जीती गई है।

Comments

Popular posts from this blog

DSP का महिला कांस्टेबल के साथ नहाते हुए का अश्लील वीडियो वायरल, DGP ने किया सस्पेंड, DSP ने वीडियो को बताया फेक

राजस्थान पुलिस की वर्दी को शर्मिंदा करने वाला एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में एक पुलिस अफसर, एक महिला कांस्टेबल के साथ स्वीमिंग पूल में नहाते हुये व अश्लील हरकत करते हुये दिखाई दे रहे हैं। लेकिन हैरानी की बात यह है कि स्वीमिंग पूल में एक बच्चा भी साथ में है। डीएसपी बच्चे के सामने ही महिला के साथ अश्लील हरकत करने में मस्त हैं। वीडियो वायरल होते ही डीजीपी एमएल लाठर ने डीएसपी को सस्पेंड करने के आदेश जारी कर दिए हैं। इस संदर्भ में अजमेर आईजी एस. सेंगाथिर का कहना है कि जांच के बाद डीएसपी को सस्पेंड किया गया है। अभी विभागीय जांच जारी है। तो वहीं डीएसपी हीरालाल सैनी का कहना है कि वे महिला को नहीं जानते हैं। वीडियो पूरी तरह से फेक है। इसे एडिट करके वायरल किया जा रहा है। मामले में महिला कांस्टेबल ने भी शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में बताया कि कोई उनका फेक वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहा है। एनएनएच न्यूज इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।

विद्याधर नगर थाना पुलिस की बड़ी कार्रवाई : मोबाइल स्नेचिंग व वाहन चोर गैंग का किया खुलासा...

देवेंद्र शर्मा... राजधानी जयपुर जिले की विद्याधर नगर थाना पुलिस ने शुक्रवार को मोबाइल स्नैचिंग व वाहन चोर गैंग का खुलासा किया है। कार्रवाई के दौरान पुलिस टीम ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है और इनके पास से पांच दुपहिया वाहन व मोबाइल भी बरामद किए हैं। पकड़े गए तीनों आरोपियों का नाम शाहरुख उर्फ मोटा, समीर उर्फ चांद और मोहम्मद इस्तखार है। कार्रवाई को लेकर विद्याधर नगर SHO वीरेंद्र कुरील ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ शहर के विभिन्न थानों में प्रकरण दर्ज है। यह आरोपी नशे की लत को पूरा करने के लिए वारदात को अंजाम देते थे, फिलहाल पकड़े गए गैंग के इन तीनों सदस्यों से गहनता से पूछताछ जारी है। आपको बता दें कि विद्याधर नगर SHO वीरेंद्र कुरील के नेतृत्व में उनकी टीम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया है। उक्त कार्रवाई का खुलासा करने में कांस्टेबल गिरधारी लाल की विशेष भूमिका रही है। तो वहीं आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए बनाई गई विशेष  टीम में स.उ.नि. मुकेश कुमार, मदन सिंह, एचसी कैलाश चंद, कांस्टेबल गिरधारीलाल, मुकेश चंद और दीपक कुमार शामिल थे।

कैदी से इश्क कर बैठीं जज,जेल में लगे CCTV कैमरे में 'किस' करते हुये रोमांस कैद,CCTV फुटेज निकाला तो संबंधित अधिकारी हैरान

जेल के अंदर से कैदियों के तमाम कारनामे सामने आते रहते हैं लेकिन अर्जेंटीना की एक जेल से एक ऐसा नजारा सामने आया है जो कल्पना से बिल्कुल अलग हटकर है। ना ही अभी तक किसी ने ऐसा मामला सुना होगा। जो कि जेल में सीसीटीवी कैमरे में एक ऐसा रोमांस कैद हो गया जिसके बारे सोचकर सब हैरान रह गये। बता दें कि जेल में कैद एक हत्या आरोपी कैदी से वहां की जज इश्क फरमाती नजर आईं। इतना ही नहीं उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ जिसमें वे कैदी को किस करती नजर आ रही हैं। दरअसल, यह पूरा मामला अर्जेंटीना के दक्षिणी प्रांत स्थित एक जेल का है। डेली मेल की एक ऑनलाइन रिपोर्ट के मुताबिक यहां एक हत्या के केस में क्रिस्टियन बस्टोस अपराधी दोषी साबित हो चुके हैं। उसने अपने साथी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वह कैदी अभी सजा काट रहा है उसे उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। इस दौरान मारियल सुआरेज नाम की जज जेल में कैदी से मिलने जाया करती थीं। उन्होंने बताया कि केस की स्टडी के लिए वे उससे मिलने जाती थीं। और इसी बीच जज मारियल सुआरेज को बीते 29 दिसंबर को जेल में उसी कैदी को किस करते हुए देखा गया। सत्यता के लिए सीसीटीवी फुटेज निकाला गया तो स