अकाल की वजह से पशुधन तोड़ रहे हैं दम


रमेश शर्मा (ब्यूरो चीफ) जैसलमेर— बाड़मेर जैसलमेर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अकाल की वजह से पशुधन दिनों दिन दम तोड़ रहे हैं ग्रामीण क्षेत्रों में चारा नहीं होने की वजह से तथा चारा महंगा होने के कारण किसान गायों को चारा नहीं दे पाते हैं जिसकी वजह से गाय दम तोड़ रही है पशुपालक सरकार के भरोसे हैं।

कब शिविर आए और गायों को चारा में ले लेकिन सरकार ने भी अभी तक कोई शिविर नहीं शुरू करवाएं जिससे लोग खुद की गायों को भी चारा नहीं खिला पाते हैं और आवारा का सोचे भी क्या इस भयंकर गर्मी में एक तो चारा नहीं ना ही पानी अब पशु पालकों का सरकार से तो विश्वास उठ गया है अब भगवान के भरोसे हैं कब ऊपरवाला बरसात करें और गायों को कुछ खाने को मिले कांग्रेस सरकार अप्रैल में शिविर खुलवाने को बोला था लेकिन अभी तक शिविर का कोई पता नहीं है।

पशुपालक शिविर का इंतजार करते करते थक चुके हैं अब राम के भरोसे हैं जैसलमेर बाड़मेर में जो भी राजनेता वे सभी अपनी दुकाने चलाने में लगे हुए हैं उनको गायों की कोई चिंता नहीं है वोटों के समय हाथ फैला कर भीख मांगते रहते हैं लेकिन अब उनको यह पता नहीं कि पशुधन की क्या स्थिति है ना ही पूछते हैं ना ही गांव में आते हैं जब वह आते हैं तो अचानक दौड़ आते हैं यदि जैसलमेर बाड़मेर में नेता आदेश देकर शिविर शुरू करवाते तो कब का हो जाता लेकिन उनको कोई फिक्र नहीं है लेकिन अब पशुपालक भी परेशान है।

यदि 10 से 15 दिन में पशु शिविर नहीं खुला तो आवारा पशु सभी मर जाएंगे और बाकी पशुओं की भी स्थिति खराब है ऊपर से यह गर्मी यदि समय रहते शिविर शुरू नहीं किए तो जैसलमेर बाड़मेर के ग्रामीण अपने-अपने जिला मुख्यालय पर जाकर अपने पूरे जिले को बंद करवाएंगे।

Comments