कस्बे में पेयजल संकट से त्राहि-त्राहि का आलम,व्यापार महासंघ ने सौंपा ज्ञापन


कैलाश टाक (संवाददाता) राजगढ़/अलवर—नगर पालिका क्षेत्र राजगढ़ में पेयजल संकट के चलते त्राहि-त्राहि का आलम है। अधिकारियों की अनदेखी एवं कर्मचारियों की निष्क्रियता के कारण आमजन को पेयजल किल्लत से जूझना पड़ रहा है। पेयजल समस्या से हो रही मुसीबत के चलते संयुक्त व्यापार महासंघ आमजन के नेतृत्व में पेयजल संकट के समाधान को लेकर मंगलवार को उपखंड अधिकारी केशव मीणा को ज्ञापन सौंपकर अभिलंब समाधान की मांग की।

पेयजल समस्या को गंभीर मानते विभाग के अधिशासी अभियंता केसी बैरवा को उपखंड अधिकारी ने उपखंड कार्यालय में बुलाया एवं समस्याएं सुनने के बाद कर्मचारियों की मीटिंग लेकर टैंकर सप्लाई करने वाले ठेकेदार की प्रॉपर मॉनिटरिंग करने की हिदायत दी। जलदाय विभाग के अधिशासी अभियंता केसी बैरवा ने समस्या को गंभीर मानते तुरंत समाधान में कोताही नहीं बरतने का संकल्प जताया।

इधर एक कस्बे की नगर पालिका, गली  पंडाल की गली, एवं पुलिस थाना रोड के साथ मित्र बिहार कॉलोनी वे समूचे कचरे में एक दिन छोड़कर 1 दिन पानी आने की जगह तीन-चार दिन में पानी की आपूर्ति होने से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित होने लगा है। जापान में एनसीआर की नवीन पेयजल लाइन को भी जोड़ने की मांग रखी। के लिए आवश्यक टैंकर जीएलआर में डलवाने की प्रॉपर व्यवस्था मैं खामियों को दूर करने की हिदायत उपखंड अधिकारी ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को दी।

जलदाय विभाग के अधीनस्थ कर्मचारियों की ओर से फोन नहीं उठाया जाने की शिकायत पर उपखंड अधिकारी ने संपर्क माध्यम से समाधान करें वस्तु स्थिति से अवगत कराने की बात कही। जलदाय विभाग राजगढ़ की ओर से शेर की सप्लाई के लिए ग्राम धमरेड में खोदे गए ट्यूबवेल से राजगढ़ क्षेत्र के लिए पानी मोरया कराए जाने की कार्य योजना बनाएं जाने के निर्देश दिए। 

इस अवसर पर प्रदीप महावर, खेम सिंह आर्य, अशोक पंसारी, अनिल गुप्ता, पवन सिंह नरूका, गिरिराज गुप्ता, रामरतन तांबी, सुरेंद्र माथुर, राम अवतार शर्मा,  रामलाल मीणा,  एवं गणमान्य जन के साथ महिलाएं मौजूद रहे।

Comments