विकास समिति ने बसवा को पंचायत समिति बनाने की उठाई मांग


मुरलीधर शर्मा (ब्यूरो चीफ) दौसा—जिले के बांदीकुई उपखण्‍ड की बसवा ग्राम विकास समिति की बैठक रविवार को अध्यक्ष केदार प्रसाद सैनी की अध्यक्षता में आयोजित हुयी। बैठक में बसवा को पंचायत समिति बनाने की मांग उठाई गयी। समिति अध्यक्ष गिर्राज सैनी ने बताया कि बैठक में सदस्यों ने राज्य सरकार से बसवा ग्राम पंचायत को पंचायत समिति बनाने की मांग उठाई।

उन्होंने बताया कि बसवा ग्राम पंचायत की जनसंख्या बीस हजार है और कई सरकारी कार्यालय स्थित है। इसके अलावा 1950-55 तक बसवा में पंचायत समिति थी। उसे बाद में बांदीकुई लाया गया। वर्तमान में राज्य सरकार पंचायत समितियों का गठन कर रही है। ऐसे में पुनर्गठन के मापदण्डों के अनुसार बसवा ग्राम पंचायत मुख्यालय पंचायत समिति के सभी मापदण्ड पूरे करती है।

सरकार पंचायत समिति में 30 ग्राम पंचायतें रखना चाहती है। जबकि बांदीकुई पंचायत समिति में 42 ग्राम पंचायत है और बांदीकुई की पंचायत समिति जनसंख्या व नये मापदण्डों के अनुसार करीब 20 से अधिक ग्राम पंचायत और नवसृजित होगी। इस प्रकार बांदीकुई में करीब 60 ग्राम पंचायते हो जायेगी। इसलिये दौसा जिले में बांदीकुई उपखण्ड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत बसवा को पंचायत समिति बनाया जा सकता है। ग्राम विकास समिति के सदस्यों ने शीघ्र ही मुख्यमंत्री व जिला कलेक्टर से मिलने का भी निर्णय लिया।

बैठक में संयोजक बाबूलाल सैनी, मंत्री शकुन्तला सोडिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जयसिंह राजपूत, गोकुल देवाडा, कोषाध्यक्ष दीनदयाल गुप्ता, एडवोकेट  टीपी सैनी, सीताराम सुधामा, विश्वास हल्देनिया, पप्पू खडकावाला, रमेश सैनी, परसा पाटोदिया, राजू बलाई, गोपाल सैनी, रामनारायण मुनीम, रघुवीर बलाई, दीपचंद शर्मा सहित अन्य लोग मौजूद रहे। 

Comments