अपराधियों के पकड़ने के साथ ही समाप्त हुआ आमरण अनशन,विभिन्न मांगों को लेकर एसडीएम को दिया ज्ञापन


मुकेश शर्मा (संवाददाता) ब्यावर/अजमेर—दुष्कर्म प्रकरण के आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने से खफा होकर आमरण अनशन पर बैठे भाजपा नेता महेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ ही अपना आमरण अनशन तौड़ दिया। इस दौरान कुमारानंद सर्किल पर आमरण अनशन स्थल पर मौजूद एक तीन वर्षीय बालिका लकिता ने रावत को ज्यूस पिलाकर अनशन तुड़वाया। आमरण अनशन समाप्त होने के बाद यहां पर मौजूद सभी लोग जूलूस के रूप में तहसील कार्यालय पहुंचे। यहां पर उन्होंने नायब तहसीलदार को एसडीएम के नाम अपनी विभिन्न मांगों को लेकर एक ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा दिए जाने तथा पीडि़ता के परिजनों को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की। साथ ही पीडि़ता के शिक्षा का खर्च सरकार द्वारा वहन करने तथा बालिग होने तथा शिक्षा पूर्ण होने पर सरकारी नौकरी देने की व्यवस्था करने की मांग की गई। साथ ब्यावर में महिला सुरक्षा को लेकर महिला थाना तथा शहर की आबादी के हिसाब से एक और नया थाना खोलने की मांग की गई ताकि अपराधों की संख्या में कमी हो सके।

ज्ञापन देने वालों में महेन्द्रसिंह रावत, भगवानसिंह, पिन्टू साहू, हिम्मतसिंह रावत, रमेश मुंडौती, हनुमानसिंह बलाड, कन्हैया पेंटर, जितेन्द्रसिंह, धर्मपाल, देवराज गहलोत, वरूण कुमार, जयनारायण जटिया सहित बड़ी संख्या में शहरवासी उपस्थित थे। 

Comments