रामगंजमंडी थाना पुलिस को मिली सफलता,फेसबुक पर फर्जी विज्ञापन देकर ठगी करने वाले को दबोचा


साबिर खान (ब्यूरो चीफ) कोटा—फेसबुक पर फर्जी विज्ञापन प्रकाशित कर ऋण देने का झांसा देने वाली फ़र्ज़ी कंपनी के मालिक बिट्टू कुमार पुत्र सुनील कुमार कहार को रामगंजमंडी पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है। बिट्टू ने रामगंजमंडी के गणेश कॉलोनी में रहने वाले नरेंद्रसिंह पुत्र बापूसिंह से 10 लाख रूपते का ऋण देने के नाम पर 36980 रुपये ठगी की थी। कोटा ग्रामीण एसपी राजन दुष्यंत ने बताया कि फरियादी की शिकायत पर धारा 420 एवं धारा 66 डी व आईटी एक्ट में प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान किया गया।

एसपी राजन के मुताबिक बिट्टू ने फेसबुक पर फ्यूचर केयर लॉन प्राइवेट लिमिटेड के नाम से विज्ञापन प्रकाशित किया था। इस विज्ञापन पर क्लिक कर रामगंजमंडी के नरेन्द्रसिंह ने 19 मार्च को 10 लाख रुपये ऋण के लिए ऑन लाइन एप्लाई कर दिया। दूसरे दिन दिल्ली से नरेंद्र के पास फोन आया की आधार कार्ड,पैनकार्ड व एकाउंट नम्बर सबमिट करें। नरेंद्र ने ऐसा ही किया। 20 मार्च को नरेंद्र के पास फोन आया कि लोन राशि की एवज में लोन सुरक्षा पॉलिसी की गई है जिसका प्रीमियम 15100 रुपये कंपनी के खाते में जमा कर दे। नरेंद्र ने ऐसा ही किया। इसके बाद नरेंद्र को लोन के फर्जी एग्रीमेंट वाट्सएप पर भेज दिए साथ ही कहा गया कि वह एग्रीमेंट शुल्क फाइल चार्ज व स्टाम्प शुल्क की राशि 21790 जमा करा दे।

साथ ही डॉक्यूमेंट पीडीएफ फाइल में भिजवा दे। उसके बाद कम्पनी आपके खाते में 10 लाख रुपये ट्रांसफर कर देगी। अब नरेंद्र पूरी तरह झांसे में आ गया था लिहाजा 21790 रुपये भी  जमा करा दिए। पैसा जमा कराते ही उसके दूसरे दिन से बिट्टू से मोबाईल पर बात होना बंद हो गई। जिस नम्बर पर बात हो रही थी अब वी बंद आने लगा तब नरेंद्र को अपने साथ ठगी हो जाने का अहसास हुआ।

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने बिट्टू के मोबाइल नम्बर के आधार पर ट्रेस किया तो उसकी लोकेशन यादव पार्क नजफगढ़ रोड़,थानार निहाल विहार दिल्ली निकली। पुलिस ने 18 जून को बिट्टू को  दिल्ली  पहुच कर गिरफ्तार कर लिया तथा उसे रामगंजमंडी ले आई, धोखाधड़ी के इस आरोपी को गिरफ्तारी करने में रामगंजमंडी पुलिस के जाबांज कांस्टेबल हरेंद्र 815 व धरेंद्र कांस्टेबल 850 की अहम भूमिका रही।

Comments