मूसलाधार बारिश के चलते निचले इलाकों में भरा,जलमग्न हुई कई बस्तियां


विमल गौड़ (संवाददाता) किशनगढ़/अजमेर—किशनगढ़ में देर शाम को शुरू हुई झमाझम बारिश का दौर अल सुबह मूसलाधार बारिश में बदल गया मौसम कार्यालय के अनुसार कल एक रात में 97 एमएम पानी बरसा बारिश के कहर के चलते शहर की कई कॉलोनियां सहित निचले इलाके पानी में डूब गए हालात यह हो गए कि जिला कलेक्टर को स्कूलों की छुट्टियों की घोषणा करनी पड़ी वहीं पानी से जलमग्न हुई बस्तियों में एम्बुलेंस के अंदर ही डॉक्टर व नर्सों की टीम ने डिलेवरी करवाई मामला न्यू हाऊसिंग बोर्ड कच्ची बस्ती का था वही शहर में बारिश के बाद बिगड़े हालात पर प्रशासन भी अलर्ट मोड़ पर आ गया।

विधायक सुरेश टाक ओर एसडीएम श्यामा राठौड़ ने पानी भरे इलाकों का दौरा किया जहां पर हालात बहुत ही विकट नजर आए इलाकों में नालों की सफाई नहीं होने के चलते ब्लॉक नालों की वजह से कॉलोनियों में पानी भर गया वही नगर परिषद व पार्षदों की मिलीभगत के चलते कच्ची बस्तियों में  पानी भर गया श्यामा राठौड़ ने नगर परिषद को नोटिस जारी कर इस तरह लोगों की जान से खिलवाड़ पर जवाब मांगा है गौरतलब है कि पिछले दिनों मानसून पूर्व हालात पर हुई बैठक में SDM श्यामा राठौड़ ने नालों की सफाई सहित निचले इलाकों में बसी कच्ची बस्तियों के लोगों को ऊपरी इलाकों में शिफ्ट करने का आदेश दिये थे।

लेकिन काम करने की बजाय नगर परिषद दोनों ही जगह केवल लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ का काम किया किशनगढ़ में हुये बाढ़ के हालात पर विधायक सुरेश टांक लगाता दौरे कर क्षेत्र की स्थिति पर बारीकी से नजर रखे हुए हैं पानी भरने से कच्ची बस्तियों में बेघर हुए लोगों के लिए विधायक सुरेश टांक ने खाने की व्यवस्था भी अपने स्तर पर करवाई फिलहाल मौके पर बचाव कार्य जारी है एक ही रात की बारिश ने प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए।

Comments