राजपुरवास ताला में विधायक-सीबीईओ के आश्वासन के बाद तीसरे दिन धरना समाप्त


मायादेवी कांकरेलिया (संवाददाता) जमवारामगढ़/जयपुर—राजपुरवास ताला स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर के बाहर बोर्ड परीक्षा में कम परिणाम को लेकर ग्रामीणों द्वारा तीन दिन से दिया जा धरना सीबीईओ सागरमल बुनकर के नेतृत्व में प्रधानाचार्य लालचंद मीना, आरपी शंकरलाल की कमेटी के लापरवाह शिक्षकों के तबादले के आश्वासन के बाद समाप्त कर दिया गया।

गौरतलब है कि राजपुरवास् ताला स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विधालय में 10वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम में 28 में से मात्र 6 विधार्थी सफल होने से ग्रामीणों में शिक्षा विभाग एवम् कार्यरत शिक्षकों केखिलाफ आक्रोश व्याप्त था। 10वीं बोर्ड परिणाम घोषित के दूसरे दिन एवम् 24 जून को स्कूल का सत्र शुरू होते ही ग्रामीणों ने स्कूल गेट के सामने विरोध प्रदर्शन कर कम परिणाम रहने पर आक्रोश जताकर शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों एवं जमवारामगढ़ विधायक गोपाल मीना से मिलकर लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ कार्यवाही कर तुंरत स्कूल से तबादले की मांग की थी।

लेकिन जब सात दिन का समय गुजर जाने बाद भी लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती दिखी। इसके बाद 1 जुलाई को स्कूल खुलते ही स्कूल एसएमसी अध्यक्ष बाबूलाल शर्मा, पूर्व जिला पार्षद सीताराम रैगर एवम् रामकिशोर नेता के नेतृत्व में ग्रामीण स्कूल परिसर के सामने धरने पर बैठ गए एवम् लापरवाह शिक्षकों के तुरन्त तबादले की मांग करने लगे।

शिक्षा विभाग द्वारा जांच अधिकारी के रूप में स्कूल पहुंचे जमवारामगढ़ सीबीईओ सागरमल बुनकर, एसीबीईओ शिवचरण मीना ने अध्यापकों एवम् ग्रामीणों से अलग अलग संवाद किया। ग्रामीणों से धरने पर नहीं बैठने की अपील की लेकिन धरने पर बैठे ग्रामीण लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ तुरन्त कार्यवाही की मांग को लेकर अडिग रहते हुए धरना जारी रखा। अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल में नहीं भेजा।

जिसके कारण 2 जुलाई को होने वाली बालसभा भी नहीं हो सकी। बुधवार को जमवारामगढ़ सीबीईओ सागरमल बुनकर एवम् सरपंच प्रतिनिधि सीताराम प्रजापत ने धरने पर बैठे लोगों से समझाइस की। लेकिन धरने पर बैठे ग्रामीणों विधायक गोपाल मीना से बात करने पर अड़ गए। इसके बाद ग्रामीणों ने जमवारामगढ़ विधायक गोपाल मीना से उनके फोन पर बात की जिस पर विधायक मीना ने ग्रामीणों की मांगें मानते हुए लापरवाह शिक्षकों के तबादले करवाकर नए शिक्षक लगाने का आश्वासन दिया।

इसके बाद सीबीईओ बुनकर एवम् सरपंच प्रतिनिधि सीताराम प्रजापत ने धरने पर बैठे लोगों को ज्यूस पिलाकर धरना समाप्त करवाया। इस मोके पर रामेश्वर शर्मा, गोकुल मीना, हनुमान मीना, सूरजमल कुम्हार, प्रकाश मीना सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे।



इनका कहना है: धरना दे रहे ग्रामीणों की मांगों पर अवश्य कार्यवाही का आश्वासन के बाद ग्रामीणों द्वारा धरना समाप्त कर दिया गया।- सागरमल बुनकर, सीबीईओ, जमवारामगढ़

-विधायक गोपाल मीना एवम् सीबीईओ बुनकर ने लापरवाह शिक्षकों के तबादला करवाने का आश्वासन एवम् बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए ग्रामीणों ने धरना समाप्त किया है।- पिंकी कुम्हार, सरपंच, राजपुरवास ताला

Comments