साहब,बच्चों को अब तो खेल मैदान दिला दो


राजेश कुमार वर्मा (संवाददाता) झड़वासा/अजमेर— झड़वासा कस्बे में गुरुवार को तहसीलदार के आकस्मिक मौका निरीक्षण के दौरान सरपंच देवकरण गुर्जर व प्रधानाचार्य कौशल्या यादव सहित ग्राम वासियों ने बच्चों के खेल मैदान के लिए तहसीलदार से लगाई गुहार और की चर्चा।

गौरतलब है कि राजस्थान भू राजस्व अधिनियम 1956 की धारा 102 एवं राज्य सरकार के आदेश में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए तत्कालीन जिला कलेक्टर बीडी जोशी ने उपखंड कार्यालय व ग्राम पंचायत झडवासा के प्रस्ताव अनुसार झड़वासा में खसरा नंबर 3498 रकबा 16-2-0 बीघा किस्म बारानी-3 में से 5 बीघा भूमि राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय झड़वासा को बच्चों के खेलने के लिए मैदान कुछ शर्तों में निबंधनो पर मार्च 1990 को मैदान आवंटन का आदेश किया था।

मगर 28 वर्ष बाद भी यह खेल मैदान बच्चों को नहीं मिल पाया जब कि चार बार इस मैदान का सीमा ज्ञान भी हो चुका है। जब गुरुवार को तहसीलदार बुद्धि प्रकाश मीणा के आकस्मिक मौका निरीक्षण के दौरान संबंधित मैदान का नक्शा व रिकॉर्ड देखा तो विद्यालय का खेल मैदान तो चिन्हित था मगर नामांतरण व तरमीम नहीं थी।

इस पर उपस्थित सरपंच देवकरण गुर्जर प्रधानाचार्य कौशल्या यादव सहित समस्त ग्राम वासियों ने गुहार लगाई तो तहसीलदार ने आश्वस्त किया की पहले इस खेल मैदान के से संबंधित सभी रिकॉर्ड में पत्रावली का अध्ययन किया जाएगा फिर नियमानुसार खेल मैदान का सीमांकन करवा कर विद्यालय को सुपुर्द किया जाएगा इस मौके पर भू अभिलेख अधिकारी कैलाश नट व पटवारी धीरज मीणा भी उपस्थित थे।

Comments