केंद्रीय बजट 2020 पर राजस्थान के कांग्रेस-भाजपा नेताओं की प्रतिक्रिया

 

केंद्रीय बजट 2020 आम व्यक्ति के लिए राहत रहित बजट नहीं है! अगर 2019 के बजट पर नजर डाले तो विभिन्न क्षेत्रों पर जितनी अनुदान राशि रखी गई थी उन राशियों के कुछ प्रतिशत ही भारत सरकार खर्च कर पाई। साथ ही गैर भाजपयी राज्यों में केंद्र सरकार के द्वारा राज्य शासित पार्टियों का कहना है कि केंद्र सरकार भेदभाव करती है। जबकि वहीं भाजपा का कहना है कि गैर भाजपयी सरकारें प्रदेश की विकास की बातें ना करके केंद्र सरकार की आलोचना करने में जितना समय बर्बाद करने में लगाता है अगर वह यही समय प्रदेश के विकास के लिए चर्चा करें तो ज्यादा बेहतर होगा और केंद्र की योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ ले सकेंगे।

केंद्रीय बजट 2020 पर कांग्रेस और भाजपा नेताओं की प्रतिक्रिया:-
राजस्थान कांग्रेस की मीडिया पर्सन अर्चना शर्मा ने केंद्रीय बजट 2020 को निराशाजनक  बताया है। उन्होंने कहा कि इस बजट में ना तो किसी को अर्थव्यवस्था और ना ही उनके द्वारा लाए गए बजट में किसी को विश्वास पैदा हुआ है। इस बजट में रोजगार सजर्न का कोई भी रोड मैप नहीं है और कामधेनु गाय एलआईसी थी जिसमें जनता का पैसा है उसका भी सरकार ने प्रावेटाइजेसन कर दिया है।

अर्चना शर्मा ने कहा कि सरकार ने बढ़ा चढाकर जो बजट पैस किया है उसमें यह नहीं बताया गया कि पिछली बार के बजट का कितना पैसा किस क्षेत्र में खर्च किया गया। महिला सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार असंवेदनशील है। टैक्स स्लेब को लेकर जो बातें की गई है उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया गया है और टैक्स स्लेब के नाम पर कुछ रिबेट दी गई है अगर कोई आमदनी नहीं होगी तो इस स्लेब का क्या फायदा होगा। इस बजट में युवाओं के लिए किसी भी प्रकार की सोच नहीं है। ये सारी बातें इस बात की सूचक हैं कि दिशाहीन बजट पेश करके वित्त मंत्री ने साबित कर दिया है कि मोदी सरकार की ना तो राजनीतिक स्थिति ठीक है और ना ही अर्थव्यवस्था के प्रति कोई सोच है।

राजस्थान कांग्रेस सरकार में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरिवास ने केंद्रीय बजट 2020 को उम्मीदों पर पानी फेरना बताया। उन्होंने कहा कि आर्थिक मंदी, महंगाई और बेरोजगारी की जबरदस्त मार झेल रही जनता के घाव पर नमक छिड़ने का काम केंद्र की सरकार ने किया है इससे स्पष्ट हो गया है कि केंद्र की सरकार को जनता की समस्या से कोई सरोकार नहीं है। वहीं उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार पेट्रोल-डीजल के भाव उपर पहुंचे हैं।

वहीं राजस्थान भाजपा के वरिष्ठ नेता ओंकार सिंह लखावत ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बजट आमजन के लिए बेहद लाभप्रद है। किसान,शिक्षा,महिला शिक्षा,रोजगार,औद्योगिक और टैक्स स्लेब में छूट को लेकर यह बजट देश को समर्पित है। लखावत ने बताया कि काम मिलेगा तो प्रत्येक क्षेत्र में जाना पड़ेगा,अब प्रशासनिक खर्च भी धीरे धीरे कम होता जा रहा है। लिहाजा युवकों को काम करने के नाते अवसर प्रदान हो यह सारा बजट उसको भी समर्पित है।

राजस्थान भाजपा के प्रवक्ता जितेंद्र श्रीमाली ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के संकल्प पत्र पर जोर दिया। श्रीमाली ने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में किसानों की आय 2022 में दोगुना करने का लक्ष्य रखा था उसी पर ध्यान दिया गया है। किसानों के लिए योजना लाए हैं। अन्नदाता ​को उर्जादाता के रूप में बदलने के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए बंजर भूमि पर उर्जा उत्पादन करने की योजना जो सरकार लाई है वह बहुत बड़ा अचिवमेंट है।

Comments