JAIPUR : तीन बच्चों के पिता ने 8 साल की मासूम को बनाया हवस का शिकार


राजस्थान के जयपुर जिले में तीन बच्चों के पिता ने 8 साल की मासूम के साथ घिनोना काम किया। पुलिस को मामले की सूचना मिलते ही तत्परता दिखाई। चार थानों में तैनात 200 से अधिक पुलिसकर्मियों की मदद से आरोपी को मात्र 7 घंटे में धरदबोच लिया। आरोपी जयपुर के 200 फीट बाइपास से सिर पर तौलिया बांधे और मुंह पर मास्क लगाए तेजी से चले जा रहा था। पुलिसवालों ने जब इसे रोका तो डर गया। नाम-पता पूछा तो घबराकर उल्टा-सीधा बोलने लगा। अचानक भागने लगा तो पुलिस वालों ने पकड़ लिया।

बता दें कि जयपुर के अजमेर रोड स्थित एलीमेंट मॉल के सामने एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में 8 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म होने का मामला सामने आया। दुष्कर्म के बाद मासूम बच्ची की हालत सीरियस होने पर पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसका डॉक्टर उपचार कर रहे हैं। बच्ची के माता-पिता भी इसी निर्माणाधीन भवन में मजदूरी का काम करते हैं और आरोपी भी वहीं काम करता है।

मामले को लेकर पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) हरेन्द्र महावर ने बताया कि ये बिल्डिंग एनएचएआई के ऑफिस के लिए बन रही थी। इसी बिल्डिंग में 27 साल का आरोपी मुकेश कुमार बैरवा भी मजदूरी करता था। वह राजस्थान के बूंदी जिले के पीपलवासा का रहने वाला है। देर शाम को मासूम बच्ची जब खेलते हुए निर्माणाधीन भवन के दूसरे छोर पर पहुंची तो आरोपी ने उसका मुंह दबाया और सुनसान जगह पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म कर वहां से भाग गया।

दुष्कर्म की शिकार हुई बच्ची जैसे-तैसे करके लहूलुहान अवस्था में अपनी मां और पिता के पास पहुंची। पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि आपबीती बताते-बताते बच्ची बेहोश हो गई। वे फौरन उसे अस्पताल लेकर गए और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए रात में ही जयपुर के श्याम नगर के अलावा सोडाला, महेश नगर, चित्रकूट और करणी विहार थाना पुलिस को अलर्ट करते हुए नाकेबंदी करवाई। इसके अलावा क्षेत्र में मौजूद तमाम पीसीआर और अन्य गश्त कर रही टीम को भी सूचना दी।

पुलिस ने बताया कि आरोपी की मोबाइल लोकेशन वैशाली नगर, चित्रकूट, संजय नगर, पांच्यावाला और लालपुरा के आस-पास ही मिल रही थी। इस एरिया में पुलिस ने आने-जाने वाले हर व्यक्ति की कड़ी नजर रखी, तभी 200 फीट बाइपास पर कांस्टेबल पारसमल और प्रदीप सिंह को एक शख्स सिर पर तौलिया बांधे और मुंह पर मास्क लगाए तेजी से जाता मिला। जब दोनों कांस्टेबल ने उसे रोककर पूछा तो वह घबरा गया। वह अचानक वहां से भागने लगा, तो दोनों ने उसे धर-दबोचा और थाने ले आए। जिसके बाद पूरी वारदात का पता चला। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसकी 7 साल पहले शादी हुई थी और उसके तीन बच्चे भी हैं, इसमें 6 साल का एक लड़का और 4 व 2 साल की दो बच्चियां भी हैं।

Comments