पुलिस उपनिरीक्षक परीक्षा में नकल गिरोह का खुलासा : 2 नाबालिग सहित 10 को दबोचा


बीकानेर।
पुलिस अधीक्षक प्रीति चन्द्रा के नेतृत्व में जिला विशेष टीम व थाना नयाशहर ने बड़ी कार्रवाई कर उपनिरीक्षक पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल गिरोह का पर्दाफाश कर 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनसे बडे नेटवर्क के खुलने की संभावना है। स्कूल संचालक ने पेपर आउट करने की एवज में बड़ी रकम का सौदा कर एक्सपर्टों की परीक्षा पत्र हल करवाने के लिए मदद ली थी।

बता दें कि आईजी बीकानेर प्रफुल्ल कुमार ने सोमवार से आयोजित हो रही उप निरीक्षक पुलिस लिखित परीक्षा में नकल संबंधी गतिविधियों को रोकने के लिए एसपी प्रीति चन्द्रा को निर्देशित किया था। सोमवार को एएसपी शेलेन्द्र सिंह इंदोलिया के सुपरविजन में एवं सीओ सुभाष शर्मा व डीएसपी ओमप्रकाश, थानाधिकारी नयाशहर गोविन्द सिंह चारण व डीएसटी प्रभारी सुभाष बिजारणियां के नेतृत्व में सूचना के आधार पर अलग अलग टीम बनाकर एक साथ मुरलीधर व्यास कॉलोनी से उप निरीक्षक पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल गिरोह में शामिल 10 लोगों को दस्तयाब किया गया जिनसे गहनता से पूछताछ करने पर इन्होंने राजेश बेनीवाल व नरेन्द्र खीचड नाम के अभ्यर्थियों को नकल कराने की बात स्वीकार की। जिनसे गहनता से पूछताछ चल रही है जिससे नकल गिरोह के बड़े नेटवर्क के खुलासे होने की संभावना है।

एसपी चन्द्रा ने बताया कि पकड़े गए आरोपी दिनेश बेनीवाल, सुरेश कुमार विश्नोई, राजाराम विश्नोई, विकास विश्नोई, नरेश दान चारण, विकास विश्नोई, दिनेश सिंह चौहान, राजाराम उर्फ राजा बिश्नोई और दो नाबालिग है।

बीकानेर एसपी ने बताया कि प्रारम्भिक पूछताछ में काफी चौकाने वाले तथ्य सामने आये। मुल्जिम दिनेश सिंह चौहान रामसहायक आदर्श सेकेन्डरी स्कूल का सचिव है, जिससे अभ्यार्थी नरेन्द्र खीचड ने सम्पर्क कर 3 दिन में आयोजित होने वाली उप निरीक्षक पुलिस भर्ती परीक्षा के दोनों पारियों के कुल 6 पेपर को परीक्षा शुरू होने से पहले आउट करने के एवज में लाखों का सौदा तय हुआ। जिसके क्रम में सचिव दिनेश सिंह ने अपने जानकार राजाराम उर्फ राजा की डयूटी अतिरिक्त वीक्षक के रूप में लगाई थी जिसके मोबाईल से दिनेश सिंह द्वारा परीक्षा शुरू होने से पूर्व परीक्षा पत्र की फोटो खींच कर राजाराम उर्फ राजा को परीक्षा पत्र की फोटो आगे नरेन्द्र खीचड व विकास बिष्नोई के मोबाईल पर जरिये वाट्सएप भिजवाई।

इस क्रम में विकास विश्नोई ने कोचिंग संस्थाओं में पढाने वाले नरेश दान चारण के पास पहुंच कर पेपर हल करवाया व सामानांतर रूप से मुरलीधर व्यास कोलोनी में दिनेश बेनीवाल के नेतृत्व में सुरेश कुमार विश्नोई, राजाराम विश्नोई, विकास विश्नोई व 2 नाबालिकों द्वारा भी पेपर हल कर क्रोस चेक करते हुए अभ्यर्थी नरेन्द्र खीचड के मोबाईल पर जरिये वाटसएप प्रश्नों के उत्तर भिजवाये।

Comments