मोदी के साथ 57 मंत्री और कैबिनेट में 24 सहयोगी ने ली शपथ,देखें लिस्ट

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी ने लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सभी मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के साथ 24 कैबिनेट मंत्रियों ने शपथ ली है.
 
नरेंद्र मोदी:—दूसरी बार सरकार का नेतृत्व करने वाले नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले पद और गोपनीयता की शपथ ली.
 
राजनाथ सिंह:—प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद राजनाथ सिंह ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. राजनाथ, टीम मोदी-1 के अहम मेंबर थे और गृह मंत्रालय संभाल रहे थे.
 
अमित शाह:—बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ले ली है. सूत्रों के मुताबिक, अमित शाह को वित्त मंत्री बनाया जा सकता है. अमित शाह इस बार गुजरात के गांधीनगर लोकसभा सीट से चुनाव जीत कर आए हैं.
 
 
नितिन गडकरी:—अमित शाह के बाद नितिन गडकरी ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में नितिन गडकरी को परिवहन मंत्रालय का जिम्मा दिया गया था.
 
सदानंद गौड़ा:—नितिन गडकरी के बाद सदानंद गौड़ा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में सदानंद गौड़ा के पास कई मंत्रालय थे. हाल में उनके जिम्मे रासायन और उर्वरक था.
 
निर्मला सीतारमण:—सदानंद गौड़ा के बाद निर्मला सीतारमण ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में निर्मला सीतारमण के जिम्मे सबसे महत्वपूर्ण रक्षा मंत्रालय का कार्यभार था. निर्मला राज्यसभा की सदस्य हैं.
 
राम विलास पासवान:—निर्मला सीतारमण के बाद राम विलास पासवान ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. पासवान को उनकी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी के कोटे से मंत्री बनाया गया है. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में राम विलास पासवान केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री थे. इस बार पासवान लोकसभा का चुनाव नहीं लड़े हैं.
 
नरेंद्र तोमर:—निर्मला सीतारमण के बाद नरेंद्र तोमर ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में नरेंद्र तोमर के जिम्मे कई अहम मंत्रालय थे. वह  ग्रामीण विकास, संसदीय कार्य, पंचायती राज और खान मंत्री थे.
 
रविशंकर प्रसाद:—नरेंद्र तोमर के बाद रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में रविशंकर प्रसाद कानून मंत्री थे. इस बार वह बिहार के पटना साहिब से पहली बार लोकसभा का चुनाव जीते हैं.
 
हरसिमरत कौर बादल:—रविशंकर प्रसाद के बाद हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. हरसिमरत कौर को अकाली दल के कोटे से मंत्री बनाया गया है. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में भी हरसिमरत कौर मंत्री थीं. उनके पास खाद्य प्रसंस्करण विभाग का जिम्मा था.
 
थावर चंद गहलोत:—हरसिमरत कौर बादल के बाद थावर चंद गहलोत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में भी थावर चंद गहलोत मंत्री रहे थे.
 
एस. जयशंकर:—थावर चंद गहलोत के बाद एस. जयशंकर ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. चीन में सबसे ज्यादा समय तक भारतीय राजदूत के तौर एस. जयशंकर तैनात रहे हैं. उन्हें बीते मार्च में पद्मश्री सम्मान मिला था.
 
रमेश पोखरियाल निशंक:—एस. जयशंकर के बाद रमेश पोखरियाल निशंक ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री निशंक हरिद्वार सीट से सांसद हैं और पहली बार केंद्रीय मंत्री बन रहे हैं.
 
अर्जुन मुंडा:—रमेश पोखरियाल निशंक के बाद अर्जुना मुंडा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा खूंटी लोकसभा सीट से जीतकर आए हैं. वह पहली बार केंद्रीय मंत्री बन रहे हैं.
 
 
स्मृति ईरानी:—अर्जुन मुंडा के बाद स्मृति ईरानी ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में स्मृति ईरानी के जिम्मे कपड़ा मंत्रालय था. इस बार स्मृति ने अमेठी में राहुल गांधी को हराया है और पहली बार लोकसभा की सदस्य बनी हैं.
 
हर्षवर्धन:—स्मृति ईरानी के बाद डॉ. हर्षवर्धन ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में हर्षवर्धन के जिम्मे विज्ञान प्रौद्योगिकी समेत कई मंत्रालय था.
 
प्रकाश जावड़ेकर:—प्रकाश जावड़ेकर ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली.
 
पीयूष गोयल:—पीयूष गोयल ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली.
 
धर्मेंद्र प्रधान:—धर्मेंद्र प्रधान ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली.
 
मुख्तार अब्बास नकवी:— मुख्तार अब्बास नकवी,प्रह्लाद जोशी,महेंद्र नाथ पांडेय,अरविंद सावंत, गिरिराज सिंह और गजेंद्र सिंह शेखावत ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली
 
इन्होंने ली राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) की शपथ...
संतोष गंगवार, श्रीपद नाईक, डॉ. जितेंद्र सिंह, किरण रिजिजू, प्रह्लाद पटेल, आरके सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मांडविया
 
इन्होंने ली राज्य मंत्री की शपथ...
फग्गन सिंह कुलस्ते, अश्वनी चौबे, अर्जुन राम मेघवाल, जनरल वीके सिंह, कृष्णपाल गुर्जर, राव साहब दानवे, जी कृष्ण रेड्डी, पुरुषोत्तम रुपाला, रामदास अठावले, साध्वी निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो, संजीव बालियान, संजय धोत्रे, अनुराग सिंह ठाकुर, 
सुरेश अंगाड़ी चन्नबसप्पा, नित्यानंद राय, रतन लाल कटारिया, वी मुरलीधरन, रेणुका सिंह सरुता, सोम प्रकाश, रामेश्वर तेली, प्रताप चंद्र सरंगी, कैलाश चौधरी, देबोश्री चौधरी ने ली शपथ